पब्लिक बाइक शेयरिंग से शहर में साइकिलिंग को बढ़ावा मिलेगा और वातावरण शुद्ध होगा — दीपक सिंह

0
4

सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड की एडवाइजरी (परामर्शी) समीति की बैठक संपन्न

पब्लिक बाइक शेयरिंग से शहर में साइकिलिंग को बढ़ावा मिलेगा और वातावरण शुद्ध होगा — दीपक सिंह

राघवेंद्र सिंह

सागर / शहर विकास के अनेक मुद्दों को लेकर स्मार्ट सिटी कार्यालय में स्मार्ट सिटी एडवाइजरी (परामर्शी) समिति की बैठक हुई जिसमे स्मार्ट सिटी अंर्तगत प्रोजेक्ट्स में लेक साईड एलीवेटेड काॅरीडोर के प्रस्तुत प्रजेंटेशन एवं तैयार आरएफपी पर चर्चा की गई। रेस्टोरेशन एंड हेरिटेज कंजर्वेशन आॅफ आईडेंटीफाइड हेरिटेज साईट्स अंतर्गत प्रस्तुत आरएफपी पर चर्चा करते हुए अन्य नई साईटों को शामिल कर इंडियन नेशनल ट्रस्ट फॉर आर्ट एंड कल्चरल हेरिटेज (INTACH), दिल्ली से बात करने का सुझाव दिया गया। फायर फाइटिंग सिस्टम के प्रस्तुत प्रजेंटेशन एवं आरएफपी पर विस्तार से चर्चा की गई। इसे आईटी सिस्टम द्वारा इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सिस्टम से माॅनीटर किया जायेगा। शहर की तंगगलियों में भी आसानी से समय पर फायर वाहन पहुच सकें इस हेतु फायर वाईक की व्यवस्था, फोमवेस्ड फायर व्हीकल, वाॅटरवेस्ड फायर व्हीकल, फायर स्टेशन, ट्रेनिंग सेंटर आदि पर चर्चा करते हुए सुझाव दिया गया कि यह शहर के साथ ही जिले के लिए भी महत्वपूर्ण है। फायर स्टेशन ऐसी जगह बने जहां पानी की प्रचुर मात्रा हो ताकि आवश्यकता अनुसार पानी की उपलब्धता सदा बनी रहे।
विधायक श्री जैन ने चल रहे प्रोजेक्टस की सराहना की एवं प्रस्तावित प्रोजेक्ट्स पर चर्चा कर सुझाव देते हुए कहा कि शहर के सभी वार्डों में जगह की उपलब्धता अनुसार स्मार्ट पार्क बना कर वृक्षारोपड़ करें। स्मार्ट टायलेट की तर्ज पर अन्य वार्डों में भी ऐसे ही टायलेट बनाए जायें। इसके साथ ही नागरिकों युवाओं को अच्छे स्वास्थ्य के लिए शहर की व्यायामशालाओं को भी पुर्नविकसित किया जाये।

जिला कलेक्टर श्री सिंह ने शहर में सुपर स्पेशलिटी हाॅस्पिटल, मल्टी लेवल कार पार्किंग, पब्लिक वाइक शेयरिंग सिस्टम, इंटीग्रेटेड बस टर्मिनल, स्मार्ट पोल, सोलर पावर जैसे सभी प्रस्तावित प्रोजेक्ट्स प्रजेंटेशनों की समीक्षा कर कहा की इससे शहर विकास में महत्वपूर्ण योगदान मिलेगा। पब्लिक बाइक शेयरिंग से शहर में साइकिलिंग को बढ़ावा मिलेगा जिससे कार्बन उत्सर्जन कम होगा वातावरण स्वच्छ होगा लोगों को स्वास्थ्य लाभ होगा। सोलर पावर पर चर्चा करते हुए कहा की शहर की प्राइमरी, मिडिल, हाई एवं हायर सेकेन्डरी स्कूलों को इससे जोड़ा जाये जिससे यहां स्मार्ट क्लास जैसे विकास कार्यों के लिए बिजली सदैव उपलब्ध हो इसके साथ ही ज्यादा से ज्यादा स्कूलों में स्मार्ट क्लास जैसी सुविधाएं हो। इसके लिए सर्वशिक्षा अभियान एवं न.नि.शिक्षा उपकर विभाग से भी बात करें। शहर में ग्रीनरी बढ़ाने के लिए सिटी फाॅरेस्ट, स्मृतिवन, पितृवन आदि विकसित करने हेतु स्थल का चिन्हांकन कर वनविभाग से बात करें।

इन बिन्दूओं पर सर्वसम्मिति से हुए निर्णय –

– पब्लिक बाइक शेयरिंग सिस्टम अंतर्गत शहर की आवश्यकता अनुसार 10-15 लोकेशन पर स्टेशन पीपीपी माॅडल पर तैयार किये जायें।

– मल्टी लेवल कारपार्किंग हेतु आवश्यकता अनुसार अलग-अलग जगहों को चिन्हित कर रेवेन्यू माॅडल पर तैयार करें।

– सुपर स्पेशलिटी हाॅस्पिटल बनाने हेतु स्थल का सर्वे किया जाये।

– इंटीग्रेटेड बस टर्मिनल को ग्रीन बिल्डिंग के रूप में विकसित किया जाये। जहां लोगों को वेटिंग रूम जैसी सभी सुविधाएं हो।

– डिस्प्ले स्क्रीन, कैमरा, स्ट्रीट लाइट आदि युक्त स्मार्ट पोल सागर स्मार्ट सिटी के पेनसिटी एरिया में भी लगाये जायें।

– सोलर पावर सिस्टम हेतु स्थल चिन्हांकन करें एवं ज्यादा से ज्यादा शासकीय संस्थाओं को सोलर एनर्जी से विद्युत प्रदाय की व्यवस्था की जाये
बैठक में विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, जिला कलेक्टर सह अध्यक्ष श्री दीपक सिंह, नगर निगमायुक्त सह कार्यकारी निदेशक श्री आर पी अहिरवार, स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत, वरिष्ठ समाजसेविका श्रीमति मीना पिंपलापुरे (वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से), श्री देवेश गर्ग, इंजी. श्री प्रकाश चौबे, श्री राजू तिवारी, स्मार्ट सिटी सीएफओ श्री के पी श्रीवास्तव, सीए श्रीमति आकांक्षा जुनेजा, असिस्टेंट प्लानर श्री प्रवीण चौरसिया, पीएमसी से श्रीमति पद्मप्रिया(वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से) एवं टीम लीडर डॉ आलोक चौबे सहित अन्य अधिकरी शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here