प्रशासन ने समझाया धर्म का मर्म सभी मानवता का पैगाम दे

0
4

प्रशासन ने समझाया धर्म का मर्म सभी मानवता का पैगाम दे

धर्मगुरूओं की बैठक में धार्मिक स्थलों की तालाबंदी पर चर्चा

राकेश यादव

देवरीकलाँ/ कोरोना संकट को लेकर चल रहे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान
धार्मिक स्थलों पर लॉकडाउन ब्रेक के मामलों को लेकर शासन के निर्देश पर
प्रशासन द्वारा धर्मगुरूओं के साथ चर्चा कर धार्मिक स्थलों की तालाबंदी का
निर्णय लिया गया। देवरी पुलिस थाने में विगत शनिवार को प्रशासन द्वारा सभी धर्मो के धर्मगुरूओं
की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें मंदिरों एवं मस्जिद के पुजारी एवं
मौलानाओं से शासन के धार्मिक स्थलों की तालाबंदी के निर्णय पर चर्चा की गई।
बैठक में अधिकारियों द्वारा बताया गया कि कोराना के बढ़ते संक्रमण को लेकर
पूर्ण लॉकडाउन की स्थिति निर्मित हो रही है ऐसी स्थिति में धार्मिक स्थलों को भी
पूर्णतः बंद रखा जाना आवश्यक है। प्रशासन ने स्पष्ट किया कि सभी धर्म मानवता
की शिक्षा देते है ऐसी परिस्थितियों में हम सभी मानवता की रक्षा के लिए एकजुटता
का पैगाम दे। उन्होंने बताया कि लगातार धार्मिक स्थलों में लोगों के पहुँचने के
कारण नियमों के पालन एवं रोकथान संबंधी सुरक्षा मानकों की अनदेखी की जा रही
है। प्रशासन ने धर्मगुरूओं से आग्रह किया कि वह अपने अपने समुदाय के व्यक्तियों
में बात करे एवं उनकी भ्रातिंया दूर करे। बैठक में देवरी थाना क्षेत्र के सभी धार्मिक
स्थलों को तालाबंद करने पर सहमति व्यक्त की गई। बैठक में प्रशासन द्वारा बताया
गया कि लॉकडाउन के दौरान विकासखण्ड में लगभग 25 सौ व्यक्ति जो बाहर से
आये थे उनका चिकित्सकीय परीक्षण कराकर उन्हें उनके घरों में ही क्वांटेराइन किया
गया है संक्रमण का कोई भी मामला सामने नही आया है। यदि संक्रमण का कोई
मामला सामने आयेगा तो 3 कि.मी. ऐरिया सीलबंद किया जाएगा। अधिकारियों
द्वारा सभी धर्म के प्रतिनिधियों एवं धर्मगुरूओं को बताया गया कि अफवाहों के कारण
विवाद जन्म लेते है अतः आप सभी को ताकीद करे कि सोशल मीडिया एवं अन्य
माध्यमों से किसी भी प्रकार की अफवाह वाली बातों को न फैलाया जाए यदि कोई
व्यक्ति झूठी भ्रामक खबरों एवं धर्म समुदाय विशेष के खिलाफ टीका टिप्पणी संबंधी
बाते प्रचारित प्रसारित करेंगा तो उसके विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाऐगी। बैठक में
एसडीएम आर.के. पटैल, एसडीओपी अजीत पटैल, थाना प्रभारी आर.एस.
ठाकुर एवं तहसीदार कुलदीप पारासर, जनपद सीईओ हेमेन्द्र गोविल सहित अन्य
अधिकारी एवं मंदिरों के पुजारी, महंत, मस्जिदों के मौलाना, धर्म न्यायों के प्रबंधक
आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here