भाजपा सरकार के राशन पर्ची वितरण के दावे खोखले।

0
37

जिले में हजारों गरीब परिवारों को नहीं मिल रहा खाद्यान्न। कांग्रेसजनों ने राशन पर्ची वितरण की जानी हकीकत।शिवराज सरकार का अन्न उत्सव चुनावी हथकंडा………सुरेंद्र चौधरी

सागर / प्रदेश की शिवराज सरकार द्वारा मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना अंतर्गत अन्न उत्सव मनाकर राशन पर्ची वितरण के दावे खोखले होने का आरोप लगाते  हुए मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेंद्र चौधरी ने कहा कि  शिवराज सरकार द्वारा उप चुनाव जीतने की गरज से अन्न उत्सव के नाम पर राशन पर्ची वितरण का ढिंढोरा पीटा जा रहा है जिसकी जमीनी सच्चाई यह हैं  कि नरयावली विधानसभा क्षेत्र के सदर कैंट वार्ड क्रमांक 4 निवासी गीता पति फूल सिंह गौड़, राकेश पिता मोहन गौंड़, ओंकार पिता शंकर गौड़, लकी पिता चतुर गौंड़, सिकंदर पिता काशी गौंड़, मोहन सिंह पिता तन्नू गौड़, खुमान सिंह पिता मोहन गौंड़, राजेश प्रताप फूलचंद गौड़, ग्राम मारा बड़ोरा  निवासी मोहन पिता मुरलीधर विश्वकर्मा,ग्राम  परसोरिया निवासी सगीर पिता अकबर, नगर पालिका मकरोनिया बुजुर्ग के वार्ड क्रमांक 12 निवासी चंदा पति प्रकाश अहिरवार, रामेश्वर पिता रतनलाल, सुखलाल पिता रतनलाल, वार्ड क्रमांक 6 निवासी सावित्री बाई कल्लू राठौर, विजय पिता हरनाम वाल्मीकि, असगर खान पिता अहमद खान, मदनलाल पिता लक्ष्मण प्रसाद,राम कुमार पिता श्यामलाल, पिंकी पति गुलाब सहित जिले के हजारों गरीब मजदूर परिवारों की राशन पर्चियां लंबे समय से बंद हैं जिन्हें न तो खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है और न ही उनकी राशन पर्चियां चालू की जा रही है। श्री चौधरी कहा कि ऐसे हजारों परिवार राशन पर्ची और राशन की बाट जोह रहे हैं जिनकी शासन /  प्रशासन को सुध लेने की फुर्सत नहीं है। भाजपा सरकार के राशन पर्ची वितरण की कांग्रेस जनों ने मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेन्द्र चौधरी के निर्देशन में नरयावली विधानसभा क्षेत्र सहित विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचकर जमीनी सच्चाई जानी जिनमे  प्रमुख रूप से युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष अशरफ खान, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी मकरोनिया के अध्यक्ष देवेंद्र कुर्मी, कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष सुरेंद्र करोसिया,संजय रोहिदास, अनिल कुर्मी,संदीप चौधरी, सतीश कुमार, राजेश श्रीवास,अफजल खान,सुनील चौधरी आदि कांग्रेसजन शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here