मुझे अध्यक्ष पद की भूख नही समाज कहे तो आज भी इस्तीफा देने को तैयार हूं– जगन्नाथ गुरैया

0
89

मुझे अध्यक्ष पद की भूख नही समाज कहे तो आज भी इस्तीफा देने को तैयार हूं– जगन्नाथ गुरैया

 साहू समाज की आपसी मनमुटाव से ट्रस्ट की राजनीति गरमाई

सागर ।  श्री देवबांके बिहारी मंदिर साहू समाज ट्रस्ट को लेकर चल रहे विवाद के दौरान आज कमेटी अध्यक्ष एवं पदाधिकारियों ने कहा कि वह अनवरत समाज हित में कार्य करते आ रहे है और आगे भी नियमानुसार न्यायालय के निर्देशों के तहत ही कार्य करेगें.
ट्रस्ट कमेटी अध्यक्ष जगन्नाथ गुरैया ने पत्रकारों से चर्चा में कहा कि उन्हें समाज द्वारा ट्रस्ट के विधान अनुसार कराए गए चुनाव के बाद यह पद सौंपा गया था और नियमानुसार 2023 तक वर्तमान ट्रस्ट का कार्यकाल है. कतिपय लोगों द्वारा राजनैतिक दुर्भावनावस समाज की बैठक के दौरान दबाव बनाया गया. लेकिन एसडीएम कोर्ट ने कथित इस्तीफे में छिपे डर को भांपते हुए हमारी आपत्ति को गंभीरता से लेेकर हितबद्ध पक्षकार माना है.

श्री गुरैया ने कहा कि कतिपय लोगों द्वारा समाज को गुमराह किया जा रहा है. इन्होने शासन की लीज की जगह को नियम विरूद्ध किराए पर देने टेंडर भी बुला लिए. उनके इस कृत्य का ट्रस्ट कमेटी द्वारा विरोध किया गया. इसी के तहत एसडीएम एवं सिटी मजिस्ट्रेट के यहाँ आवेदन दिया गया जिसके बाद ही एसडीएम कार्यालय ने धारा 145 के तहत कार्रवाई की गई है. प्रकरण में प्रशासन द्वारा मोतीनगर थाना पुलिस से भी जाँच करायी थी. श्री गुरैया के अनुसार ट्रस्ट कमेटी द्वारा ना तो संरक्षक को पत्र सौंपा गया ना ही कोई चॉबी. चूंकि अब समाज का सामुदायिक भवन बनकर लगभग तैयार हो चुका है, उसपर ही अपना हक जताने यह कथित प्रयास हो रहे है.

ट्रस्ट के व्यवस्थापक ईश्वर लाल साहू ने पिछले सालों की गतिविधियों और अन्य जानकारियों से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि तत्कालीन अध्यक्ष बीड़ी साहू के निधन के बाद जगन्नाथ गुरैया को अध्यक्ष बनाया गया था। पूरे कार्यकाल में किसी तरह की गड़बड़ियां नही हुई है।  कुछ लोग ट्रस्टी बनकर सामुदायिक भवन पर कब्जा जमाना चाहते है। वर्तमान में मामला न्यायालय में विचाराधीन है। अध्यक्ष का सन 2023 तक कार्यकाल है।  हम अदालत का सम्मान करते है। यहां जो भी निर्णय होगा हम नमाज के हितों के लिए अक्षरशः पालन करेंगे।
इस मौके पर पधाधिकारी गण रामकुमार साहू
घासीराम राम साहू,  उमाशंकर अशोक साहू
प्रभुदयाल साहू अरविंद साहू ,बिंदु साहू सहित समाज के  अनेक  लोग मौजूद थे ।
उल्लेखनीय है कि सामुदायिक भवन के कथित विवाद को लेकर साहू समाज के दूसरे पक्ष कमेटी ने दो दिन पहले कुछ मामलों को उठाया था।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here