मड़ावरा क्षेत्र में मोबाईल नेटवर्क की आंख-मिचौली से ग्रामीण परेशान

0
24

 

मड़ावरा क्षेत्र में मोबाईल नेटवर्क की आंख-मिचौली से ग्रामीण परेशान

प्राइवेट कम्पनियों पर रीचार्ज राशि लेकर नेटवर्क न देते हुए ठगी करने का आरोप

सतीश नायक

मड़ावरा (ललितपुर)| आज के दौर में मोबाईल इन्शान की दैनिक क्रियाओं में एक अहम हिस्सेदारी रखता है। मगर मोबाइल में जब तक नेटवर्क न हो तो मोबाइल महज एक डिब्बी की तरह शोपीस बनकर रह जाता है। जी हाँ हम बात कर रहे तहसील क्षेत्र मड़ावरा के ग्रामीण क्षेत्रों की जहां ग्रामीण मंहगे से मंहगा रिचार्ज कराने के बावजूद बदहाल नेटवर्क व्यबस्था को कोसते हुए दिख जाएंगे।
आलम यह है कि कस्बा मड़ावरा सहित सोंरई, धौरीसागर, मदनपुर, गिरार व नाराहट क्षेत्र में एक लम्बे समय से मोबाइल नेटवर्क का टोटा बना हुआ है। ज्ञात हो कि क्षेत्र में बेहतर वाइस नेटवर्क तथा इंटरनेट कनेक्टिविटी देने के लिए एयरटेल, जिओ जैसी कम्पनियां बड़े-बड़े दाबे व वायदे करती हैं। उपभोक्ता मंहगे रीचार्ज कराते हुए नेटवर्क कंपनी से अच्छे नेटवर्क की उम्मीद रखते हैं। मगर बाद में अपने को ठगा महसूस करते हैं। आरोप है कि कम्पनियों द्वारा 4जी नेटवर्क उपलब्ध कराने का झांसा देकर उनसे रिचार्ज करवा लेती और उपलब्धता 2जी नेटवर्क की भी नहीं आती, और तो और बात करने तक के लिए यहां के बाशिन्दों को ऊँची गुम्मदों का सहारा लेना होता है।
ऐसे में कस्बा मड़ावरा में इंटरनेट-कैफे संचालित करने बाले दुकानदारों को रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो रहा। तो तहसील और ब्लॉक, अस्पतालों में भी सभी काम चौपट है। कस्बा के बैंकों में तो समस्या है ही, इसके अलाबा गांव-देहात में खुली बैंक शाखाओं में भी नेटवर्क के अभाव में सभी कामकाज ठप हैं।
ऐसे में मोबाईल नेटवर्क की आंख मिचौली से त्रस्त क्षेत्रवासियों ने बदहाल व्यबस्था में सुधार की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here