सभी बैंक 30 जून तक अधिक से अधिक पथविक्रेताओं के प्रकरण स्वीकृत कर ऋण उपलब्ध कराये– निगमायुक्त

0
81

नगर निगम आयुक्त ने प्रधानमंत्री पथ विक्रेता आत्मनिर्भर स्वनिधि योजना अंतर्गत लक्ष्य आवंटन एवं ऋण उपलब्ध कराने हेतु बैंक के अधिकारियों के साथ बैठक की

सभी बैंक 30 जून तक अधिक से अधिक पथविक्रेताओं के प्रकरण स्वीकृत कर ऋण उपलब्ध कराये– निगमायुक्त

सागर/ प्रधानमंत्री पथविक्रेता आत्मनिर्भर स्वनिधि योजना अंतर्गत लक्ष्य आवंटन एवं ऋण उपलब्ध कराने के संबंध में विभिन्न बैंकों के अधिकारियों के साथ नगर निगम आयुक्त सागर आर पी अहिरवार स्मार्ट सिटी कार्यालय में बैठक कर योजना के संबंध में जानकारी दी। उन्होने बताया कि कोविड 19 महामारी के कारण प्रदेष के पथ व्यवसायियों का रोजगार एवं उनकी आजीविका प्रभावित होने के कारण उन्हें पुनः रोजगार से जोड़ने एवं स्थायी आजीविका के साधन उपलब्ध कराने के लिये भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री पथविक्रेता आत्मनिर्भर स्वनिधि योजना के लाभान्वित करने हेतु 1 जून से योजना लागू की गई है। इसके लिये शहरी पथविक्रेता के पंजीयन हेतु शासन द्वारा 6 जून को मुख्यमंत्री शहरी असंगठित कामगार एकीकृत पोर्टल बनाया इसके माध्यम से अधिक से अधिक पथविक्रेताओं का पंजीयन किया गया है। आवेदन का सत्यापन मोबाईल, आधार, ओ.टी.पी.कर, समग्र आई.डी.के माध्यम से परिवार की जानकारी दर्ज की जा रही है। नगर निगम द्वारा पोर्टल पर पंजीकृत हितग्राहियों के आवेदनों का सत्यापन एवं स्वीकृति उपरांत पथविक्रेता को आॅनलाईन पहचान पत्र एवं बेडिंग प्रमाणपत्र जारी किया जा रहा है। निगमायुक्त ने बताया कि योजना अंतर्गत पात्र हितग्राहियों को रू. 10 हजार का ऋण 1 जुलाई से प्रदान किया जायेगा। हितग्राहियों को ऋण के नियमित भुगतान पर भारत सरकार द्वारा 7 प्रतिषत ब्याज अनुदान एवं म.प्र.शासन द्वारा अतिरिक्त लगभग 5 प्रतिषत ब्याज अनुदान प्रदान किया जायेगा। इसके अतिरिक्त बैकों के कार्य के पंूजी ऋण में लगने वाले स्टाम्प शुल्क में छूट प्रदान करने की कार्यवाही की जा रही है। नगर निगम सागर में 15 हजार से अधिक पथविक्रेताओं ने स्वयं पंजीकरण किया है। नगर निगम द्वारा सत्यापन उपरांत पात्र हितग्राहियों को बैंक द्वारा रू. 10 हजार का ऋण आवंटित किया जायेगा। निगमायुक्त ने सभी बैंक के अधिकारियों से कहा है कि शासन की योजना का लाभ पथविक्रेताओं के लिये उपलब्ध कराये तथा 30 जून तक अधिक से अधिक पथविक्र्रेताओं के प्रकरण स्वीकृत कर दें जिससे उन्हें योजना का लाभ प्राप्त हो सकें और वे उन्हें अपना रोजगार स्थापित कर सकें। बैठक में शहरी विकास अभिकरण परियोजना अधिकारी एवं राहतगढ़ सी.एम.ओ. श्री बी.एस.चैहान, योजना प्रभारी एवं सिटी मिषन मैनेजर श्री सचिन मसीह, श्रीमति कल्पना श्रीवास्तव, विकास जैन एवं विभिन्न बैंको के अधिकारी उपस्थित थे।
25 जून की मध्यरात्रि से पार्टल बंद हो जायेगा शासन के आदेषानुसार पथविक्रेताओं के पंजीयन एवं ऋण उपलब्ध कराने हेतु बनाये गये मुख्यमंत्री शहरी असंगठित कामगार एकीकृत पोर्टल 25 जून की मध्यरात्रि से बंद हो जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here