साथियों ने पैसों के बंटवारे को लेकर की साथी को हत्या पुलिस ने अंधे कत्ल का किया खुलासा

0
31
एडीशनल एसपी विक्रम सिह ने गढाकोटा के घोघरा ग्राम के अंधे कत्ल का किया पर्दाफाश
सागर एसपी ने रखा था 10000 का इनाम
रवि सोनी गढ़ाकोटा। चोरी की लकड़ी के पैसों के बटवारे के बिबाद से नाराज होकर युवक की गाला दबाकर कर दी थी हत्या। हत्या के बाद शव को फेक दिया था नाले में।  11 सितंबर को ग्राम घोघरा के झंन्ना नाले में तैरता हुआ संदिग्ध परिस्थितियों में मिला था एक युवक का शव। डॉक्टर ने काशीराम की मृत्यु गला घुटने से बताई थी। पुलिस ने इस मामले में आरोपिओं को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है।
 बुधवार के दिन थाना गढाकोटा मे एडीशनल एसपी विक्रम सिह ने विगत दिनों गढाकोटा थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम घोघरा में हुए कत्ल का खुलासा किया।  जिसमें एडीशनल एसपी श्री सिह ने बताया कि दिनांक 10 सितंबर 2020 को सूचना करता बलराम पटेल निवासी घोघरा ने अपने छोटे भाई काशीराम पटेल को दिनांक 9 सितंबर 2020 की रात्रि में गुमने की थाना गढाकोटा मे रिपोर्ट दर्ज कराई थी।  जिस पर से थाना गढाकोटा मे गुमइंसान कायम कर जांच की गई।  जांच के दौरान गुमशुदा काशीराम पटेल का शव दिनांक 11 सितंबर 2020 को ग्राम घोघरा के झंन्ना नाले में तैरता हुआ संदिग्ध परिस्थितियों में मिला था ओर पुलिस द्वारा शव का पोस्टमार्टम सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गढ़ाकोटा में कराया गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में डॉक्टर ने मृतक काशीराम की मृत्यु गला घोटने से होना लेख किया।  जिसके आधार पर अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध अपराध क्रमांक धारा 302 201 भारतीय दंड विधिक का अपराध पंजीबद्ध कर अज्ञात आरोपीगणों की तलाश सागर पुलिस अधीक्षक महोदय के कुशल नेतृत्व एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय विक्रम सिंह व एसडीओपी रहली के मार्गदर्शन में अंधे कत्ल का पर्दाफाश थाना प्रभारी सुर्खी उपनिरीक्षक आनंद राज एवं शाहपुर चौकी प्रभारी उप निरीक्षक रवि भूषण पाठक के सहयोग से थाना गढ़ाकोटा प्रभारी के एन अरजरिया एवं स्टाफ द्वारा करते हुए आरोपीगण योगेश पिता प्रताप सिंह ठाकुर,बिलउ उर्फ छतर सिंह पिता संतोष लोधी ग्राम बोरई एवं मनीष पटेल पिता चंद्रभान पटेल निवासी घोघरा कछवारे को गिफ्तार किया जाकर न्यायालय पेश किया गया। इस घटना मे सागर एसपी ने 10000 हजार का ईनाम भी घोषित किया था। आरोपीगणों ने मृतक काशीराम उर्फ हल्के भैया पटेल के साथ मिलकर 9 सितंबर की रात्रि में लकड़ी चोरी करने के दौरान मृतक काशीराम उर्फ हल्के भैया पटेल से लकड़ी के पैसों के बंटवारे को लेकर के विवाद एवं पूर्व से बिलऊ लोधी के 5000 रूपये के लेनदेन के विवाद पर से उसका रस्सी से गला घोटकर हत्या कर लाश को पास के झिन्ना नाली में फेंकना बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here