सी एम हेल्पलाइन का हो प्रभावी क्रियान्वयन कलेक्टर ने अधिकारियों को सौंपे दायित्व

0
3

सी एम हेल्पलाइन का हो प्रभावी क्रियान्वयन कलेक्टर ने अधिकारियों को सौंपे दायित्व

राघवेंद्र सिंह

सागर / कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने जिले में सीएम हेल्पलाईन अंतर्गत प्राप्त शिकायतों के प्रभावी नियंत्रण एवं समन्वय हेतु कलेक्टर कार्यालय से संबंधित लेबल-2 एवं 3 पर प्राप्त शिकायतों में दर्ज निराकरणों के परीक्षण करने, परीक्षण उपरांत दर्ज जवाबों में सुधार कराने एवं संतुष्टि प्रतिशत बढाने एवं समस्त विभागीय नोडल अधिकारियों से समन्वय हेतु विभिन्न अधिकारियों को नियुक्त किया गया है।
उक्त कार्यवाही के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु सी.एम हेल्पलाईन अंतर्गत कलेक्टर के लेवल -2 एवं लेवल -3 पर प्राप्त शिकायतो से संबंधित विभागों के जिला प्रमुखों द्वारा एक -एक नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाना है। जिससे संबंधित कार्यवाही सभी जिला प्रमुखों द्वारा दो दिवस में सुनिष्चित की जाएगी। इसके लिए बी.आर.सी. भवन स्थित ई – दक्ष केन्द्र में कंट्रोल रूम स्थापित किया जाएगा। जिसमें संबंधित विभागीय नोडल एवं कलेक्टर द्वारा नामांकित अधिकारियां द्वारा शिकायतों का समाधान पूर्ण निराकरण दर्ज कराया जाएगा।
कलेक्टर दीपक सिंह ने निर्देष दिए है कि सर्वसबंधित विभाग के नोडल अधिकारी समय सीमा में शिकायतों के निराकरण दर्ज करें। उन्होंने निर्देष दिए है कि लेवल -1 एवं लेवल -2 अधिकारी विभागीय समन्वय स्थापित करें। साथ ही शिकायतकर्ताओं से बात कर शिकायत की वास्तविक स्थिति से अवगत होंवे। सर्वसबंधित अधिकारी शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण प्रतिशत बढ़ाने हेतु जिम्मेदार रहेगें। उन्होंने निर्देष दिए है कि गंभीर शिकायत की स्थिति में अधिकारीगण, कलेक्टर एवं अपर कलेक्टर को अवगत करायेगें ।नियुक्त किए गए अधिकारियों की अनुपस्थिति में उक्त के अनुक्रम में अगला अधिकारी कार्यवाही सुनिश्चित करेगा। अपर कलेक्टर जिला सागर समय – समय पर उक्त कंट्रोल में निरीक्षण कर संबंधित कार्यों की गतिविधियों की समीक्षा करेगें । उपरोक्त संपूर्ण प्रक्रिया की निगरानी एवं कंट्रोल रूम की व्यवस्थाओं हेतु जिला प्रबंधक लोक सेवा प्रबंधन जिला सागर एवं जिला ई – गवर्नेस प्रबंधक जिला ई – गवर्नेस सोसाईटी जिला सागर को अधिकृत किया गया है।

मिलावट से मुक्ति अभियान को जन अभियान बनाएं -अपर कलेक्टर श्री जैन

समय पत्रों की समीक्षा संपन्न

सागर/समय-सीमा पत्रों की समीक्षा बैठक अपर कलेक्टर श्री अखिलेष जैन की अध्यक्षता में कलेक्टर सभाकक्ष में संपन्न हुई। उन्होंने निर्देष दिए कि मिलावट से मुक्ति अभियान को जन अभियान बनाएं और प्रभावी कार्यवाही करें। इस अवसर पर नगर निगम कमिष्नर श्री श्री आरपी अहिरवार, जिला पंचायत सीईओ श्री इच्छित गढ़पाले, नगर दण्डाधिकारी श्री सीएल वर्मा सहित समस्त एसडीएम एवं अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
बैठक में श्री अपर कलेक्टर श्री जैन ने कहा कि समर्थन मूल्य पर धान ज्वार एवं बाजरा खरीदी, धान मिलिंग की समीक्षा- समर्थन मूल्य पर धान ज्वार एवं बाजरा खरीदी, धान मिलिंग की समीक्षा की समीक्षा के दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व समस्त उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण सुनिश्चित करें तथा धान पंजीयन की प्रगति शत-प्रतिषत सत्यापन पटवारियों के माध्यम से सुनिश्चित कराया जावे। कानून व्यवस्था, अवैध रेत परिवहन, साईवर क्राईम समीक्षा के दौरान अवैध रेल परिवहन के संबंध में कार्यवाही की जाना सुनिश्चित करें तथा प्रकरण तैयार कर समक्ष में प्रस्तुत करें। मिलावट से मुक्ति अभियान- समीक्षा के दौरान संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि मिलावट की रोकथाम एवं प्रभावी कार्यवाही की जाना सुनिश्चित की जावे। अनुविभागीय अधिकारी अपने अनुविभाग में यह कार्यवाही दल बनाकर कराना सुनिश्चित करें। खाद्य सुरक्षा अधिकारी यह सुनिश्चित करें के शासन के लक्ष्य के अलावा भी सतत निरीक्षण, सेम्पलिंग तथा न्यायालय में परिवाद प्रस्तुत करें तथा मोबाइल प्रयोगशाला से जांच कर भी कार्यवाही की जावे। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना- इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी समस्त जिला सागर को निर्देशित किया गया कि कि पटवारियों के माध्यम से शत प्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति कराई जाना सुनिश्चित करें। नवीन पात्रता पर्चीधारी हितग्राहियों को खाद्न्न वितरण एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली- शेष लक्ष्य की पूर्ति हेतु निर्देशित किया गया कि जनपदवार एवं नगरीय निकायवार डाटा शेष शेयर करें सभी कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व से आवश्यक सहयोग प्राप्त कर शत प्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति की जावे। पथ विक्रेता उत्थान योजना, स्व-सहायता समूहों का सशक्तिकरण, त्योहार एवं कोविड-19 की समीक्षा, आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का निर्माण, एक जिला एक उत्पाद योजना लोक परिसम्पित्ति प्रबंधन पोर्टल, समस्त नगरीय निकायों में एकल खाता प्रणाली, जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत में रखी हई अनुपयोगी राशि आदि की समीक्षा की गई।

नरयावली विधानसभा क्षेत्र की समीक्षा बैठक 3 दिसंबर को
सागर /नरयावली विधानसभा क्षेत्र के कार्यां की समीक्षा बैठक एवं क्षेत्र का भ्रमण 3 दिसंबर को प्रातः 10 बजे से नगर पालिका मकरोनिया सभाकक्ष में रखी गई है। जिसमें संबंधित अधिकारी उपस्थित रहेंगे

कंट्रोल रूम स्थापित

सागर /कलेक्टर दीपक सिंह के निर्देष पर सीएम हेल्पलाईन से संबंधित प्रकरणों के तत्काल निराकरण हेतु ई-दक्ष सेंटर में सीएम हेल्पलाइन कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। कंट्रोल रूम में सीएम हेल्पलाईन से संबंधित एल-1 व 2 का जबाव का परीक्षण कर जिला नोडल अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किए जाएंगे। समस्त एसडीएम एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त कर एल-1 व 2 की षिकायतों का निराकरण करेंगे।

बेरोजगार व्यक्तियों के लिए जॉब फेयर योजना से मिलेंगे रोजगार सृजन के अवसर

सागर / जिले में बेरोजगार व्यक्तियों को विभिन्न तरह के रोजगार के अवसर सृजित कर रोजगार दिलाने के संबंध में विस्तृत कार्ययोजना तैयार की गई है। इसका उददेष्य जिला रोजगार कार्यालय के माध्यम से निजी क्षेत्रों में उनकी मांग के अनुरूप उनके यहां रिक्त पदों पर वैतनिक रोजगार उपलब्ध कराना है। समय-समय पर भारतीय थल सेना, भारतीय वायु सेना की नीति नियम के अनुरूप सैनिक, तकनीकी पदों पर नियुक्ति हेतु सेना भर्ती रैली का आयोजन किया जाएगा। देश व प्रदेश की निजी संस्थानों के नियोजकों के सस्थानों से संपर्क कर उनसे रिक्त स्थानों की सूचना प्राप्त कर उनकी सहमति से रिक्त स्थानों की पूर्ति हेतु उनके द्वारा निर्धारित योग्यताधारी आवेदकों के लिए रोजगार मेले का आयोजन किया जाएगा।
जिला रोजगार कार्यालय के माध्यम में करियर काउंसलिंग के लिए जिले के शिक्षित बेरोजगार आवेदक एवं विद्यालयों, महाविदयालयों, तकनीकी संस्थाओं में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को रोजगार, स्वरोजगार प्राप्त करने के लिए निशुल्क व्यावसायिक मार्गदर्शन सहायता उपलब्ध की जाएगी। काउंसलिंग के द्वारा रोजगार प्राप्त करने की क्षमता को बढ़ाने के तरीकों के लिए सुझाव दिए जाएंगे। जिले के विद्यालयों तकनीकी संस्थाओं एवं अन्य सहायक संस्थाओं के दवारा संचालित व्यवसायिक एत रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्रक्रिया एव प्रावृत्ति इत्यादि की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी।
इसी प्रकार जिले में संचालित विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं की जानकारी, योजना के अन्तर्गत स्थापित होने वाले स्वरोजगार इकाइयों के संबंध में जानकारी प्रदाय करना, बेरोजगार युवाओं को नियमित रोजगार हेतु विभिन्न संस्थाओं द्वारा जारी रिक्तियों एवं प्रतियोगिता परीक्षाओं की जानकारी प्रदान करना, थल सेना, वायु सेना में जिले के युवाओं की रोजगार क्षमता बढ़ाने के लिए अल्पावधि परीक्षा पूर्व तैयारी एवं प्रशिक्षण उन्मुखीकरण प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन करना आदि सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी।
मार्गदर्शन पैनल का गठन
उक्त उद्देश्यों की पूर्ति करने एवं मार्गदर्शन उपलब्ध कराने के लिए मनोवैज्ञानिक एवं विभिन्न विषयों के विशेषज्ञों के चयन के लिए पैनल तैयार किया जावेगा। उक्त विशेषज्ञों द्वारा निर्धारित मानदेय पर जिला रोजगार कार्यालय के माध्यम से मार्गदर्शन उपलब्ध कराया जाएगा। इन मनोवैज्ञानिकों एवं विषय विषेषज्ञों का चयन निजी, सार्वजनिक और शासकीय क्षेत्र में संलग्न योग्य व्यक्तियों में से किया जायेगा जो रोजगार, स्वरोजगार एवं विभिन्न व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के प्रवेश एवं उनसे संबंधित आवश्यक जानकारी उपलब्ध कराने में सक्षम हों। प्रत्येक मनोवैज्ञानिकों एवं विषय विशेषज्ञों को प्रत्येक मार्गदर्शन दिवस के लिये अधिकतम राषि 1000 रूपये का मानदेय देय होगा। उक्त प्रस्तावित का गठन एक वित्तीय वर्ष के लिए जिला स्तरीय समिति द्वारा किया जावेगा।

आरटीजीएस के नियमों में आज से हुआ ये बड़ा बदलाव
सागर / रियल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (आरटीजीएस) के माध्यम से धनराषि का ट्रांसफर आज (1 दिसंबर) से चौबीसों घंटे उपलब्ध कराया जाएगा। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अक्टूबर में दिए गए निर्देषों के अनुसार ग्राहकों को 1 दिसंबर से साल के 365 दिन, चौबीसों घंटे आरटीजीएस की सुविधा मिलेगी। आरबीआई गवर्नर ने मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के बाद कहा, ‘‘भारत साल के 365 दिन चौबीस घंटे बड़े मूल्य वास्तविक समय भुगतान प्रणाली के साथ वैष्विक स्तर पर बहुत कम देषों में से एक होगा।‘‘वर्तमान में, आरटीजीएस ग्राहकों के लिए हर महीने के दूसरे और चौथे शनिवार को छोड़कर सप्ताह के सभी कार्य दिवसों में सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक उपलब्ध होता था।

मास्क न लगाने वालों के कटे चालान, लगाने वालों को पहनाई फूल माला
सागर /राहतगढ़ में मंगलवार को नगर परिषद द्वारा चालानी कार्रवाई के दौरान जो मास्क नहीं लगाए हुए थे उनके चालान काटे गए एवं जो मास्क लगाए हुए थे उन्हें माला पहनाकर सम्मानित किया गया। जोन क्रमांक-2 तिलक गंज वार्ड सब्जी मंडी के अंदर खुले में पेषाब करते पाए गए व्यक्तियों का चालान किया गया।

स्वच्छता जागरूकता अभियान के तहत
नुक्कड़ नाटक का आयोजन
सागर/ स्वच्छता जागरूकता अभियान के तहत लक्ष्मीपुरा वार्ड सरस्वती मंदिर के पास जोन क्र-7 में नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया। स्वच्छता जागरूकता अभियान के तहत चकरा घाट वार्ड जोन क्रमांक-7 में भी नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया। उल्लेखनीय है कि स्वच्छता सर्वेक्षण के मददेनजर जिले में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है। साथ ही जनता की भागीदारी सुनिष्चित करने के लिए अलग-अलग प्रतियोगिताओं के माध्यम से उन्हें जागरूक भी किया जा रहा है।

गौशाला निर्माण कार्य का निरीक्षण

सागर /जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श इच्छित गढ़पाले के निर्देषानुसार जनपद पंचायत सागर अंतर्गत ग्राम रिछावर में गौशाला निर्माण कार्य का निरीक्षण किया गया। गौशाला चालू करने हेतु आवश्यक तैयारियों की समीक्षा की गई।साथ ही सरपंच को गौशाला चालू कराने हेतु चारा संग्रह करने एवं गाय लाने की चर्चा भी की गई।

ग्राम ऐरन गौषाला का किया गया लोकार्पण

सागर /कलेक्टर दीपक सिंह के निर्देष पर दिसंबर माह में जिले की समस्त 33 गौषालाओं का संचालन करने के मददेनजर मंगलवार को बीना के ग्राम पंचायत ऐरन की अत्याधुनिक गौषाला का लोकार्पण बीना विधायक श्री महेष राय द्वारा किया गया। इस अवसर पर बीना जनपद के सीईओ श्री आषीष जोषी, सरपंच श्री पूरन सिंह रघुवंषी सहित जनसमुदाय मौजूद था।
गौषाला के सफल संचालन हेतु विधायक, सीईओ, सरपंच, सचिव, नवीन, रतनसिंह द्वारा 5100 की राषि एवं भगवान सिंह, चंदन सिंह, रतन सिंह एक-एक ट्राली भूसा दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here